Bewafa Shayari in hindi

Bewafa Shayari in hindi



अब के अब तस्लीम कर 
लें तू नहीं तो मैं सही,
कौन मानेगा कि हम 

में से बेवफा कोई नहीं।

Ab Ke Ab Tasleem Kar Lein Tu Nahi Toh Main Sahi,
Kaun Manega Ke Hum Mein Se Bewafa Koi Nahi.

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।


Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Tera Khayal Dil Se Mitaya Nahi Abhi,
BeWafa Maine Tujhko Bhulaya Nahi Abhi.

Bewafa shayari facebook

मेरे फन को तराशा है सभी के नेक इरादों ने,
किसी की बेवफाई ने किसी के झूठे वादों ने।

Mere Fan Ko Tarasha Hai Sabhi Ke Nek Iraadon Ne,
Kisi Ki Bewafai Ne Kisi Ke Jhoothhe Vaadon Ne.


हमसे न करिये बातें यूँ बेरुखी से सनम,
होने लगे हो कुछ-कुछ बेवफा से तुम।


Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Humse Na Kariye Baatein Yoon Berukhi Se Sanam,
Hone Lage Ho Kuchh-Kuchh Bewafa Se Tum.



Bewafa Shayari in hindi for girlfriend

खुदा ने पूछा क्या सज़ा दूँ उस बेवफ़ा को,
दिल ने कहा मोहब्बत हो जाए उसे भी।

Khuda Ne Puchha Kya Saza Doon Uss Bewafa Ko,
Dil Ne Kaha Mohabbat Ho Jaye Use Bhi.

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हमको जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला।

Hamein Na Mohabbat Mili Na Pyar Mila,
Humko Jo Bhi Mila Bewafa Yaar Mila,
Apni To Ban Gayi Tamasha Zindagi,
Har Koyi Maksad Ka Talabgaar Mila.


Bewafa Shayari in hindi for girlfriend

जाते-जाते उसके आखिरी अल्फाज़ यही थे,
जी सको तो जी लेना मर जाओ तो बेहतर है।

Jaate-Jaate Uske Aakhiri Alfaz Yahi The,
Jee Sako Toh Jee Lena Mar Jaao Toh Behtar Hai.

तूने ही लगा दिया इलज़ाम-ए-बेवफाई,
अदालत भी तेरी थी गवाह भी तू ही थी।


Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Tu Ne Hi Laga Diya ilzaam-e-Bewafai,
Adalat Bhi Teri Thi Gawaah Bhi Tu Hi Thi.


Bewafa Shayari in hindi for love

मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला,
अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता।

Mil Hi Jayega Koi Na Koi Toot Ke Chahne Wala,
Ab Shahar Ka Shahar Toh Bewafa Ho Nahi Sakta.

दिल के दरिया में धड़कन की कश्ती है,
ख़्वाबों की दुनिया में यादों की बस्ती है,
मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है,
वफ़ा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।

dil ke dariya mein dhadakan kee kashtee hai, khvaabon kee duniya mein yaadon kee bastee hai, mohabbat ke baajaar mein chaahat ka sauda hai, vafa kee keemat se to bevaphaee sastee hai.

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

Har Bhool Teri Maaf Ki
Teri Har Khata Ko Bhula Diya,
Gham Hai Ki Mere Pyar Ka
Tu Ne Bewafai Sila Diya.



Bewafa Shayari in hindi for love

बंद कर देना खुली आँखों को मेरी आ के तुम,
अक्स तेरा देख कर कह दे न कोई बेवफा।

Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Band Kar Dena Khuli Aankhon Ko Meri Aa Ke Tum,
Aks Tera Dekh Kar Kah De Na Koi Bewafa.

ढूंढ़ तो लेते अपने प्यार को हम,
शहर में भीड़ इतनी भी न थी,
पर रोक दी तलाश हमने,
क्योंकि वो खोये नहीं बदल गए थे।

dhoondh to lete apane pyaar ko ham, shahar mein bheed itanee bhee na thee, par rok dee talaash hamane, kyonki vo khoye nahin badal gae the.


आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार में तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।
Aap Bewafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Aap Kabhi Khafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Jo Geet Likhe The Kabhi Pyar Mein Tere,
Wahi Geet Ruswa Honge Socha Hi Nahi Tha.



Bewafa Shayari in hindi for love

सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​,
​हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है।
Sirf Ek Hi Baat Seekhi Inn Husn Walon Se Humne,
Haseen Jis Ki Jitni Adaa Hai Woh Utna Hi Bewafa Hai.
अपने तजुर्बे की आज़माइश की ज़िद थी,
वर्ना हमको था मालूम कि तुम बेवफा हो जाओगे।
apane tajurbe kee aazamaish kee zid thee, varna hamako tha maaloom ki tum bevapha ho jaoge.

Bewafa Shayari in hindi 

पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से एक शख्स ने तबाह किया।
Pehle Ishq Fir Dhokha Fir Bewafai,
Badi Tarkeeb Se Ek Shakhs Ne Tabaah Kiya.
रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,
ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो।
Roye Kuchh Iss Tarah Se Mere Jism Se Lagke Wo,
Aisa Laga Ke Jaise Kabhi BeWafa Na The Wo,

Bewafa Shayari in hindi 

नज़ारे तो बदलेंगे ही ये तो कुदरत है,
अफ़सोस तो हमें तेरे बदलने का हुआ है।



Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

nazaare to badalenge hee ye to kudarat hai, afasos to hamen tere badalane ka hua hai.
मेरी वफा के बदले बेवफाई न दिया कर,
मेरी उम्मीद ठुकरा के इन्कार न किया कर,
तेरी मोहब्बत में हम सब कुछ गँवा बैठे,
जान भी चली जायेगी इम्तिहान न लिया कर।
Meri Wafa Ke Badle Bewafai Na Diya Kar,
Meri Ummeed Thhukra Kar Inkaar Na Kiya Kar,
Teri Mohabbat Mein Hum Sab Kuchh Gawa Baithe,
Jaan Bhi Chali Jayegi Imtihaan Na Liya Kar.
तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी,
वरना हमको कहाँ तुम से शिकायत होगी,
ये तो वही बेवफ़ा लोगों की दुनिया है,
तुम अगर भूल भी जाओ जो रिवायत होगी।

Bewafa Shayari in hindi 

Tum Agar Yaad Rakhoge Toh Inayat Hogi,
Varna Humko Kahan Tum Se Shikayat Hogi,
Yeh Toh Wahi Bewafa Logon Ki Dunia Hai,
Tum Agar Bhool Bhi Jaao Toh Riwayat Hogi.
मुझे शिकवा नहीं कुछ बेवफ़ाई का तेरी हरगिज़,
गिला तो तब हो अगर तूने किसी से निभाई हो।



Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Mujhe Shiqwa Nahi Kuchh Bewafai Ka Teri Hargij,
Gila To Tab Ho Agar Tu Ne Kisi Se Nibhai Ho.
रहने दे ये किताब तेरे काम की नहीं,
इस में लिखे हुए हैं वफाओं के तज़करे।
Rehne De Yeh Kitaab Tere Kaam Ki Nahi,
Iss Mein Likhe Hue Hain Wafaaon Ke Tazkare.

Bewafa Shayari in hindi for girlfriend

वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि,
जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं,
कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने,
फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं।
Wo Nikal Gaye Mere Raste Se Is Kadar Ki,
Jaise Ki Wo Mujhe Pahchante Nahi,
Kitne Jakhm Khaye Hain Mere Is Dil Ne,
Fir Bhi Hum Us Bewafa Ko Bewafa Mante Hi Nahi.
मुस्कुरा देता हूँ अक्सर देखकर पुराने खत तेरे,
तू झूठ भी कितनी सच्चाई से लिखती थी।



Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

Muskura Deta Hoon Aksar DekhKar Puraane Khat Tere,
Tu Jhuth Bhi Kitni Sachchai Se Likhti Thi.

Bewafa Shayari in hindi for love

इतनी मुश्किल भी ना थी
राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ
कुछ वो बेवफा हो गए।
Itni Mushkil Bhi Na Thi
Raah Meri Mohabbat Ki,
Kuchh Zamana Khilaaf Hua
Kuchh Woh Bewafa Ho Gaye.

Bewafa Shayari in hindi for love

Bewafa-Shayari-in-hindi-for-love

हर पल कुछ सोचते रहने की आदत हो गयी है,
हर आहट पे चौंक जाने की आदत हो गयी है,
तेरे इश्क़ में ऐ बेवफा, हिज्र की रातों के संग,
हमको भी जागते रहने की आदत हो गयी है।
Har Pal Kuchh Sochte Rahne Ki Adat Ho Gayi Hai,
Har Ahat Par Chuk Jaane Ki Ahat Ho Gayi Hai,
Tere Ishq Me Ai Bewafa, Hijr Ki Raaton Ke Sang,
Humko Bhi Jagte Rahne Ki Adat Ho Gayi Hai.

0 Comments: