shayari for life


Shayari for life




इक टूटी-सी ज़िंदगी को समेटने की चाहत थी,
खबर थी उन टुकड़ों को ही बिखेर बैठेंगे हम।

Shayari-for-life



Ek Tooti Si Zindagi Ko Sametne Ki Chahat Thi,
Na Khabar Thi Unn Tukdon Ko Hi Bikher Baithhenge.

समंदर न सही पर एक नदी तो होनी चाहिए,
तेरे शहर में ज़िंदगी कहीं तो होनी चाहिए।


shayari-on-life-Hindi

Samandar Na Sahi Par Ek Nadi Toh Honi Chahiye,
Tere Shahar Mein Zindagi Kahin Toh Honi Chahiye.


Shayari for life


जूझती रही... बिखरती रही... टूटती रही,
कुछ इस तरह ज़िन्दगी...  निखरती रही।

Joojhti Rahi.... Bikharti Rahi... TootTi Rahi,
Kuchh Is Tarah Zindagi... Nikharti Rahi.

अजीब तरह से गुजर गयी मेरी भी ज़िन्दगी,
सोचा कुछ, किया कुछ, हुआ कुछ, मिला कुछ।

Ajeeb Tarah Se Gujar Gayi Meri Bhi Zindagi,
Socha Kuchh, Kia Kuchh, Hua Kuchh, Mila Kuchh.


shayari on life hindi


बड़े ही अजीब हैं ये ज़िन्दगी के रास्ते,
अनजाने मोड़ पर कुछ लोग अपने बन जाते हैं,
मिलने की खुशी दें या न दें,
मगर बिछड़ने का गम ज़रूर दे जाते हैं।

Bade Hi Ajeeb Hain Ye Zindagi Ke Raaste,
Anjane Mod Par Kuchh Log Apne Ban Jate Hain,
Milne Ki Khushi Dein Ya Na Dein,
Magar Bichadne Ka Gam Zaroor De Jate Hain.

ये तन्हा सी ज़िन्दगी डराती है मुझे हर शाम,
एहसान है की एक खोखली हिम्मत देता है ये जाम।

Ye Tanha Si Zindagi Darati Hai Mujhe Har Shaam,
Ehsaan Hai Ki Ek Khokhli Himmat Deta Hai Ye Jaam.

जीने का हौसला कभी मरने की आरज़ू,
दिन यूँ ही धूप-छाँव में अपने भी कट गए।

shayari-on-life-Hindi

                                                       shayari on life Hindi

Jeene Ka Hausla Kabhi Marne Ki Aarzoo,
Din Yoon Hi Dhoop-Chhaaon Mein Apne Bhi Kat Gaye.

फिक्र है सबको खुद को सही साबित करने की,
जैसे ये ज़िंदगी, ज़िंदगी नहीं, कोई इल्जाम है।

Fikr Hai Sabko Khud Ko Sahi Sabit Karne Ki,
Jaise Zindagi, Zindagi Nahi Koi Iljaam Hai.

ज़िन्दगी एक खूबसूरत ख़्वाब है,
जिसमें जीने की ख्वाहिश होनी चाहिये,
ग़म खुद ही खुशियों में बदल जायेंगे,
सिर्फ मुस्कुराने की आदत होनी चाहिये।


Shayari-for-life

Zindagi Ek Khoobasoorat Khwaab Hai,
Jismein Jeene Ki Khwahish Honi Chahiye,
Gam Khud Hi Khushiyon Mein Badal Jayenge,
Sirf Muskurane Ki Aadat Honi Chahiye.


shayari on life in hindi

ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है,
ज़ुल्फ़-ओ-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है,
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में,
इश्क ही इक हकीकत नहीं कुछ और भी है।
Zindagi Sirf Mohabbat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai,
Zulf-o-Rukhsaar Ki Jannat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai,
Bhookh Aur Pyaas Ki Maari Huyi Iss Duniya Mein,
Ishq Hi Ek Hakiqat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai.
ले दे के अपने पास फ़क़त एक नजर तो है,
क्यूँ देखें ज़िंदगी को किसी की नजर से हम।
Le De Ke Apne Paas Faqat Ek Najar Toh Hai,
Kyun Dekhein Zindagi Ko Kisi Ki Najar Se Hum.
चूम लो हर मुश्किल को अपना मान कर,
क्योंकि ज़िन्दगी कैसी भी है... है तो अपनी ही।
shayari on life in English

Shayari-for-life

Choom Lo Har Mushkil Ko Apna Maan Kar,
Kyunki Zindagi Kaisi Bhi Hai... Hai To Apni Hi.
ज़िन्दगी उस अजनबी मोड़ पर ले आई है,
तुम चुप हो मुझसे और मैं चुप हूँ सबसे।
Zindagi Uss Ajnabi Mod Par Le Aayi Hai,
Tum Chup Ho Mujhse Aur Main Chup Hun Sabse.
नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब,
ज़िंदगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले।
Nafrat Si Hone Lagi Hai Iss Safar Se Ab,
Zindagi Kahin Toh Pahucha De Khatm Hone Se Pehle.
यह ज़िन्दगी बस सिर्फ पल दो पल है,
जिसमें न तो आज और न ही कल है,
जी लो इस ज़िंदगी का हर पल इस तरह,
जैसे बस यही ज़िन्दगी का सबसे हसीं पल है।
urdu shayari on life
shayari-on-life-Hindi

Yeh Zindagii Bas Sirf Pal Do Pal Hai,
Jisme Na To Aaj Aur Na Hi Kal Hai,
Jee Lo Is Zindagii Ka Har Pal Is Tarah,
Jaise Bas Yahi Zindagii Ka Sabse Hasin Pal Hai.
सरे-आम ​मुझे ​ये शिकायत है ज़िन्दगी से​,​
क्यूँ मिलता नहीं मिजाज़ मेरा किसी से।
Sar-e-Aam Mujhe Ye Shikayat Hai Zindagi Se,
Kyun Milta Nahi Mijaaz Mera Kisi Se.
ज़िंदगी जिसका बड़ा नाम सुना है हमने,
एक कमजोर सी हिचकी के सिवा कुछ भी नहीं।
Zindagi JisKa Badaa Naam Suna Hai Hum Ne,
Ek Kamjor Si Hichki Ke Siwa Kuchh Bhi Nahi.
ज़िन्दगी तस्वीर भी है और तक़दीर भी,
फर्क तो सिर्फ रंगों का है।
मनचाहे रंगों से बने तो तस्वीर, और
अनजाने रंगों से बने तो तक़दीर।
shayari on life urdu
shayari-on-life-Hindi

Zindagi Tasveer Bhi Hai Aur Takdeer Bhi,
Fark To Sirf Rango Ka Hai,
Manchahe Rangon Se Bane To Tasveer, Aur
Anchahe Rango Se Bane To Takdeer.
आराम से तन्हा कट रही थी तो अच्छी थी,
ज़िन्दगी तू कहाँ दिल की बातों में आ गयी।
Aaram Se Tanha Kat Rahi Thi To Achchhi Thi,
Zindagi Tu Kahan Dil Ki Baaton Mein Aa Gayi.
एक उम्र गुस्ताखियों के लिये भी नसीब हो,
ये ज़िंदगी तो बस अदब में ही गुजर गई।
Ek Umar Gustakhiyon Ke Liye Bhi Naseeb Ho,
Yeh Zindagi Toh Bas Adab Mein Gujar Gayi.
आँखों को अश्क का पता न चलता,
दिल को दर्द का एहसास न होता,
कितना हसीन होता जिंदगी का सफ़र,
अगर मिलकर कभी बिछड़ना न होता।


Shayari-for-life

shayari on life urdu

जुगनुओं की रोशनी से तीरगी हटती नहीं,
आइने की सादगी से झूठ की पटती नहीं,
ज़िन्दगी में गम नहीं फिर इसमें क्या मजा,
सिर्फ खुशियों के सहारे ज़िन्दगी कटती नहीं।
Jugnuon Ki Roshni Se Teergi HatTi Nahi,
Aayine Ki Saadgi Se Jhoothh Ki PatTi Nahi,
Zindagi Mein Gham Nahi Fir Ismein Kya Mazaa,
Sirf Khushion Ke Sahare Zindagi KatTi Nai.
हर बात मानी है तेरी सिर झुका कर ऐ ज़िंदगी,
हिसाब बराबर कर तू भी तो कुछ शर्तें मान मेरी।
Har Baat Maani Hai Teri Sar Jhuka Kar Ai Zindagi,
Hisaab Barabar Kar Tu Bhi Toh Kuchh Shartein Maan Meri.
दर्द कैसा भी हो कभी आँख नम ना करो,
रात काली सही लेकिन ग़म ना करो,
एक सितारा बन जगमगाते रहो,
ज़िन्दगी में यूँ ही सदा मुस्कुराते रहो।
shayari for life

Shayari-for-life

Dard Kaisa Bhi Ho Aankh Nam Na Karo,
Raat Kaali Sahi Lekin Gham Na Karo,
Ek Sitara Ban Jagmagate Raho,
Zindagi Me Yun Hi Sada Muskurate Raho.
जाने कब आ के दबे पाँव गुजर जाती है,
मेरी हर साँस मेरा जिस्म पुराना करके।
Jaane Kab Aake Dabe Paanv Gujar Jaati Hai,
Meri Har Saans Mera Jism Purana Kar Ke.
अब समझ लेता हूँ मीठे लफ़्ज़ों की कड़वाहट,
हो गया है ज़िंदगी का तजुर्बा थोड़ा थोड़ा।
Ab Samajh Leta Hun Meethhe Lafzon Ki Kaduwahat,
Ho Gaya Hai Zindagi Ka Tajurba Thoda Thoda.
करने लगे हिसाब -ऐ- जिन्दगी तो रो बैठे,
गिनते रहे सालों को और लम्हों को खो बैठे।
shayari for life
Shayari-for-life

Karne Lage Hisab -Ai-Zindagi To Ro Baithe,
Ginte Rahe Salon Ko Aur Lamhon Ko Kho Baithe.
पहचानूं कैसे तुझको मेरी ज़िन्दगी बता,
गुजरी है तू करीब से लेकिन नकाब में।
Pahchaanu Kaise Tujh Ko Meri Zindagi Bataa,
Gujri Hai Tu Kareeb Se Lekin Naqaab Mein.
मुझे ज़िंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं है दोस्तों,
पर लोग कहते हैं यहाँ सादगी से कटती नहीं।
Mujhe Zindagi Ka Itna Tajurba Toh Nahin Hai Dosto,
Par Log Kahte Hain Yehan Saadgi Se KatTi Nahi.
जी रहे है तेरी शर्तो के मुताबिक़ ए जिंदगी,
दौर आएगा कभी, हमारी फरमाइशो का भी।


shayari-on-life-Hindi

Jee Rahe Hain Teri Sharto Ke Mutaabiq-E-Zindagi,
Daur Aaega Kabhi, Hamari Farmaisho Ka Bhi.
फुरसत अगर मिले तो मुझे पढ़ना जरूर,
नाकाम ज़िंदगी की मुकम्मल किताब हूँ मैं।
shayari on life hindi
shayari-on-life-Hindi

Fursat Agar Mile To Mujhe Parhna Jaroor,
Nakaam Zindagi Ki Muqammal Kitab Hoon Main.
मंजिलें मुझे छोड़ गयी रास्तों ने संभाल लिया,
जिंदगी तेरी जरूरत नहीं मुझे हादसों ने पाल लिया।
Manzile Mujhe Chhod Gayi Raston Ne Sambhal Liya
Zindagi Teri Jarurat Nahi Mujhe Haadson Ne Paal Liya.
जिंदगी के राज़ को राज़ रहने दो,
अगर है कोई ऐतराज़ तो रहने दो,
पर जब दिल करे हमें याद करने को,
तो उसे ये मत कहना के आज रहने दो।
Zindagi Ke Raaz Ko Raaz Rahne Do,
Agar Hai Koi Aitraz To Rahne Do,
Par Jab Dil Kare Hame Yaad Karne Ko,
To Use Ye Mat Kahna Ke Aaj Rahne Do.
shayari on life hindi

रोज़ दिल में हसरतों को जलता देखकर,
थक चुका हूँ ज़िन्दगी का ये रवैया देखकर।
Roj Dil Mein Hasraton Ko Jalta DekhKar,
Thak Chuka Hoon Zindagi Ka Ye Ravaiya DekhKar.
कभी खोले तो कभी ज़ुल्फ़ को बिखराए है,
ज़िंदगी शाम है और शाम ढली जाए है।
Kabhi Khole Toh Kabhi Zulf Ko Bikhraye Hai,
Zindagi Shaam Hai Aur Shaam Dhali Jaye Hai.
ऐ ग़म-ए-ज़िंदगी न हो नाराज़,
मुझको आदत है मुस्कुराने की।


Shayari-for-life

Ai Gham-e-Zindagi Na Ho Naraz,
Mujhko Aadat Hai Muskurane Ki.
बख्शा है ठोकरों ने सँभलने का हौसला,
हर हादसा ख्याल को गहराई दे गया।
Bakhsha Hai Thhokaron Ne Sambhalne Ka Hausla,
Har Haadsa Khayal Ko Gahraayi De Gaya.
पहले से उन कदमों की आहट जान लेते हैं,
तुझे ऐ ज़िंदगी हम दूर से पहचान लेते हैं।
shayri on life hindi

Pehle Se Un Kadamon Ki Aahat Jaan Lete Hain,
Tujhe Ai Zindagi Hum Dur Se Pehchaan Lete Hain.
ज़रा मुस्कुराना भी सीखा दे ऐ ज़िंदगी,
रोना तो पैदा होते ही सीख लिया था।
Jara Muskurana Bhi Sikha De Ai Zindagi,
Rona To Paida Hote Hai Seekh Liya Tha.
थोड़ी मस्ती थोड़ा सा ईमान बचा पाया हूँ,
ये क्या कम है अपनी पहचान बचा पाया हूँ,
कुछ उम्मीदें, कुछ सपने, कुछ महकती यादें,
जीने का मैं इतना ही सामान बचा पाया हूँ।


shayari-on-life-Hindi

Thodi Masti Thoda Sa Imaan Bacha Paya Hoon,
Yeh Kya Kam Hai Apni Pahchaan Bacha Paya Hoon,
Kuchh Ummidein, Kuchh Sapne, Kuchh Mahekti Yaadein,
Jeene Ka Main Itna Hi Saman Bacha Paya Hoon.
है अजीब शहर की ज़िंदगी
न सफर रहा न क़याम है
कहीं कारोबार सी दोपहर
कहीं बदमिजाज़ सी शाम है।
Hai Ajeeb Shahar Ki Zindgi
Na Safar Raha Na Qayam Hai,
Kahi Karobaar Si Dophar
Kahi Bad-Mijaz Si Shaam Hai.
shayri on life hindi

ऐ ज़िंदगी काश तू ही रूठ जाती मुझ से,
ये रूठे हुए लोग मुझ से मनाये नहीं जाते।
Ai Zindagi Kash Tu Hi Ruth Jati Mujh Se,
Ye Ruthe Hue Log Mujh Se Mnaye Nahin Jate.

0 Comments: